जीवाश्म क्या है? जानिए A-Z, एकदम आसान भाषा में

हेलो दोस्तों आज हम इस आर्टिकल में बात करेंगे कि जीवाश्म क्या है, और भी इसके बारे में हम जानेगे तो शुरू करते है।

जीवाश्म क्या है? (What is fossil in hindi)

जीवाश्म जीव-जन्तुओ और पेड़ पौधों के वे अंश या प्रमाण है, जिन्हें प्रकृति अपने प्राकृतिक स्रोतों जैसे- चट्टान रेत, बर्फ, रेजिन, आदि में संरक्षित रखती है। जीवाश्मो से न केवल हमें प्राचीन समय में पाए जाने वाले जीव जन्तुओ एवं वनस्पतियों की जानकारी मिलती है। वरन उस समय की तत्कालीन परिस्थितियों जलवायु मौसम मृदा की संरचना नमी तापमान जल और थल की सीमा आदि से सम्बंधित जानकारी भी मिलती है।

जीवाश्म क्या है? fossil
जीवाश्म क्या है?

जीवाश्म के प्रकार (Type of fossile) –

जीवाश्म निम्न प्रकार के हो सकते है।

1. अपरिवर्तित जीवाश्म (Unchanged fossil) –  

ये जीवाश्म पूर्ण शरीर या फिर कुछ परिवर्तनों के साथ मरे हुए शरीरों के रूप में प्राप्त होते है। ये जीवाश्म विज्ञान के सबसे पुक्ता प्रमाण होते है।

उदाहरण – प्लीस्टोसीन युग में पाए जाने वाले मैमथ (हाथी) एवं ऊनी गैंडा (Woolly rhinoceros) के मृत कंकाल एवं मांसपेशियों के साथ साइबेरिया क्षेत्र में हजारो फिट बर्फ के भंडार नीचे संरक्षित पाए जाते है।

2. परिवर्तित जीवाश्म (altered fossils) –

इस प्रकार के जीवाश्म में जन्तुओ और वनस्पतियों के कोमल भाग सड्गल जाते है। केवल इनकी हड्डियाँ जबड़ो दांतों तथा वनस्पतियों में कास्टिय भाग जीवाश्म के रूप में प्राप्त होते है।

जरूर पढ़ें -  तिलचट्टा क्या होता है? Kitane pair hote hain जानिए A-Z

जैसे – जुरासिक काल में पाए जाने वाले डायनोसोर के जीवाश्म।

जीवाश्म क्या है? Fossils
जीवाश्म क्या है?

3. सांचा जीवाश्म (Mold fossile) –

इस प्रकार के जीवाश्मों में जीव जन्तुओ एवं वनस्पतियों के मृत शरीरो के चारो ओर की चट्टान इनके चारो ओर दब करके सांचे का रूप ले लेती है। जन्तुओ के समस्त अवशेष सड्गल के खत्म हो जाते है, और चट्टान में उनके शरीर का छाप अंकित हो जाती है। ज्यादातर जीवाश्म इसी रूप में पाए जाते है।

4. छपी जीवाश्म (Print fossil) –

इस प्रकार के जीवाश्म कीचड़ युक्त अथवा नमी युक्त चट्टानों में पाए जाते है, जिसमे जन्तुओ के पद चिन्ह या वनस्पतियों पेड़ पौधों की पत्तियों आदि की छाप होते है।

5. जटिल जीवाश्म (Comprolite fossil) –

ये जीवाश्म जन्तुओ की आहारनाल के अपवर्ज पदार्थ है, जो फॉस्फेट के रूप में पाए जाते है। जैसे – क्रिक में पाए जाने वाले सैलामेंडल के अपवर्ज पदार्थो के जीवाश्म।

6. एम्बर जीवाश्म (Ambier fossil) –

ये प्राचीन काल के चिमनीस्पन द्वारा स्रावित रेजिन होते है। जिसमे कीड़ो मकोडो के जीवाश्म संरक्षित पाए जाते है।

दोस्तों आशा करता हूँ कि जीवाश्म क्या है? के बारे में दी गई जानकारी पसंद आई होगी दोस्त अगर यह जानकारी पसंद आई है तो इसे प्लीज अधिक से अधिक शेयर करें

NEET के लिए कम्पलीट नोट्स बुक –

NEET Teachers के द्वारा एकदम सरल भाषा में लिखी गई नोट्स बुक 3 in 1, यानि कि एक ही किताब में जीव विज्ञान, रसायन विज्ञान और भौतिक विज्ञान की कम्पलीट कोर्स। यदि आपको इसकी जरूरत है तो नीचे दिए गये बुक इमेज पर क्लिक कीजिये और इसके बारे में और भी जानिए।

धन्यवाद 

जरूर पढ़ें -  प्रोटिस्टा जगत, वर्गीकरण, लक्षण, प्रोटोजोआ, जानिए A-Z

इन्हें भी पढ़े :-

विषाणु क्या होता है?

बैक्टीरिया क्या होता है?

Leave a Comment

error: Content is protected !!