एलर्जी क्या है? परिभाषा, प्रकार, लक्षण, कारण, रोकथाम

दोस्तों क्या आप जानना चाहते हैं कि एलर्जी क्या है? (allergy kya hai) यदि हां तो यह लेख सिर्फ आपके लिए ही है क्योंकि इस लेख में हम इसकी परिभाषा, प्रकार, लक्षण, कारण, रोकथाम और निदान के बारे में जानेंगे, तो चलिए बिना समय बर्बाद किया शुरू करते हैं।

दोस्तों लोगों को जन्म से लेकर मृत्यु होने तक बहुत से समस्यायें और बीमारियां होती रहती है जिनमें से बहुत से बीमारियां हैं जो दवा खाने पर ठीक हो जाती है लेकिन बहुत से ऐसी बीमारियां समस्याएं हैं जो दवा खाने पर भी ठीक नहीं होती है और ऐसी एक समस्या है एलर्जी। एलर्जी एक ऐसी बीमारियां या समस्या है जिसे हम स्थाई रूप से खत्म नहीं कर सकते लेकिन इसके लक्षणों को हम कंट्रोल कर सकते हैं। एक बार यह समस्या उत्पन्न होने पर जीवन भर उस व्यक्ति के साथ रहती है। बहुत ही कम लोग हैं जो एलर्जी से छुटकारा का जाते हैं।

दोस्तों एलर्जी कहानी और देखने में या सुनने में बहुत ही छोटी प्रॉब्लम लगती है लेकिन जिस व्यक्ति को यह समस्या है उससे पूछा जाए तो वह व्यक्ति आपको बताया कि इस समस्या को लेकर वह कितना परेशान है इलाज कराते – कराते परेशान हो गया है। दोस्तों यदि कोई व्यक्ति ऐसी चीज खा लेता है जिससे उसे एलर्जी है तो उसे व्यक्ति के शरीर में काफी समस्या उत्पन्न होने लगती है और अगर उसका इलाज नहीं होता है तो उसकी जान जाने की भी संभावना होती है वैसे भी बहुत से लोग हैं जो एलर्जी के बारे में नहीं जानते हैं तो चलिए आज हम इस समस्या या बीमारी के बारे में स्टेप बाय स्टेप अध्ययन करते हैं।

एलर्जी क्या है? Allergy Kya Hai?

दोस्तों यदि हमारे शरीर के अंदर कोई बाहरी उत्पाद या पदार्थ आता है और हमारा शरीर उसको हानिकारक पदार्थ के रूप में देखता है और उसके खिलाफ़ प्रतिक्रिया देने लगता है तो इस प्रतिक्रिया को हम एलर्जी कहते हैं। 

दोस्तों एलर्जी किसी व्यक्ति को किसी भी चीज से हो सकती है जैसे धूल के कण, अंडे, फास्ट फूड भोजन, परागकण, पालतू जानवरों की रूसी से, भोजन, बारिश का पानी, दवाएं, फल, दूध, अधिक ठंड इत्यादि। इसमें होता यह है कि जब शरीर में आए हुए बाहरी पदार्थ को हमारा प्रतीक्षा तंत्र हानिकारक पदार्थ के रूप में देखता है तो उसके खिलाफ एंटीबॉडीज बनाता है जिससे शरीर में खुजलाहट त्वचा पर लाल चकते, छींक आना, नाक बहना इत्यादि समस्या उत्पन्न हो जाती है।

एलर्जी के प्रकार (Types of allergy)

दोस्तों एलर्जी कई प्रकार के होते हैं क्योंकि एलर्जी किसी एक चीज से नहीं होती है यह कई चीजों से हो सकती है। इसलिए इसके प्रकार भी कई होंगे हम नीचे कुछ प्रमुख एलर्जी के प्रकार के बारे में जानेंगे।

  1. त्वचा/स्किन एलर्जी – दोस्तों यह एलर्जी कई चीजों से हो सकती है जैसे सूर्य की रोशनी, पानी, कीड़ों का मल या जहर, पौधों का परागकण, पालतू जानवरों की रुसी इत्यादि।
  2. धूल से एलर्जी – धूल के कण से भी एलर्जी होती है क्योंकि इसमें कई जीवो के द्वारा निकाले गए पदार्थ, पालतू पशुओं के रुसी इत्यादि मिले होते हैं जो एलर्जी उत्पन्न करते हैं।
  3. भोजन से एलर्जी – बहुत ऐसे लोग हैं जिन्हें किसी न किसी तरह के भोजन से एलर्जी होती है एक्चुअल में उस भोजन में मिले हुए तत्वों से एलर्जी होती है। कुछ भोजन के नाम – दूध और दही, मछली, dry fruits, अंडे, गेहूं, मूंगफली इत्यादि।
  4. दवाएं/ड्रग एलर्जी – लोगों को दवाओं से भी एलर्जी होती है जिनमें कुछ एंटीबायोटिक दवाएं होते हैं।
  5. कीड़ों से एलर्जी – लोगों को कीड़ों के मल, लार और उनके जहर से एलर्जी हो सकती है। जैसे तिलचट्टे, मधुमक्खियां, चीटियां इत्यादि।
  6. पशु एलर्जी – बहुत से लोगों को पशुओं से एलर्जी होती है। इसमें पशुओं द्वारा निकाले गए पदार्थ के कारण होता है जैसे त्वचा से निकले रुसी पपड़ी, मल मूत्र, लार इत्यादि। 
  7. मौसम एलर्जी – दोस्तों बहुत से ऐसे लोग हैं जिन्हें बदलते मौसम से एलर्जी होती है यानी कि उनके शरीर में कुछ समस्याएं उत्पन्न हो जाती हैं इसमें होता यह है की मौसम बदलने पर पेड़ पौधे अलग-अलग तरह के परागकण छोड़ते हैं जिससे लोगों में एलर्जी होती है। गर्मियों के मौसम में बहुत से ऐसे घास होती हैं जो पराग छोड़ती हैं और लोगों में एलर्जी उत्पन्न करती हैं।
  8. कॉस्मेटिक एलर्जी – अधिकतर लोग अपनी त्वचा आदि स्थानों पर कॉस्मेटिक प्रोडक्ट का इस्तेमाल करते हैं और इन कॉस्मेटिक प्रोडक्ट में उपस्थित रसायनों की वजह से भी लोगों में एलर्जी होती है जिससे त्वचा में सूजन और लालिमा हो जाती है।
जरूर पढ़ें -  विसरण और परासरण, प्रकार, उपयोगिता, Diffusion in Hindi

एलर्जी के लक्षण

व्यक्ति को अलग-अलग पदार्थ से एलर्जी हो सकती है और उसके अलग-अलग लक्षण भी होते हैं जिनके बारे में हम आगे जानेंगे कि किस एलर्जी में किस तरह के लक्षण दिखाई देते हैं।

allergy ke lakshan, एलर्जी क्या है?
एलर्जी के लक्षण
  1. स्किन एलर्जी के लक्षण – इस एलर्जी में त्वचा पर लालपन, सूजन, खुजली, फटी हुई त्वचा और परतदार जैसे लक्षण दिखाई देने लगते हैं।
  2. धूल से एलर्जी के लक्षण – इस एलर्जी में नाक बहना, छींक आना, आंखें लाल हो जाना, आंखों में खुजलाहट, और पानी आना त्वचा में भी खुजली, सांस लेने में दिक्कत, खांसी, घबराहट जैसे लक्षण दिखाई देते हैं।
  3. भोजन/फ़ूड एलर्जी के लक्षण – इसमें व्यक्ति के पेट में ऐंठन उल्टी सांस लेने में दिक्कत घबराहट मुंह में सूजन, चक्कर आना, बार-बार खांसी आना, आवाज में कर्कश, भोजन को निगलने में दिक्कत, जैसे कई लक्षण दिखाई देने लगते हैं। इस एलर्जी में व्यक्ति का पाचन तंत्र फेफड़े रक्त नलिकाएं हृदय त्वचा के साथ-साथ शरीर के और भी अंग प्रभावित हो सकते हैं।
  4. दवाएं/ड्रग एलर्जी के लक्षण – इस एलर्जी में व्यक्ति की त्वचा में खुजली, सूजन, लाल चकत्ते, घबराहट सांस लेने में दिक्कत, उल्टी होना, हल्का सिर दर्द करना, चक्कर आना आदि लक्षण दिखाई देते हैं।
  5. कीट एलर्जी के लक्षण –  इसमें व्यक्ति को खांसी बंद नाक घबराहट साइनस इन्फेक्शन, कान में इन्फेक्शन और कीटों के जहर से खुजली, सूजन, पेट में ऐंठन, दस्त, उल्टी, सांस लेने में दिक्कत, सीने में जकड़न आदि लक्षण दिखाई देते हैं।
  6. पशु एलर्जी के लक्षण – इस एलर्जी में व्यक्ति के आंखों का लाल होना, पानी आना, खुजली होना, छींक आना, नाक बंद हो जाने से चेहरे पर दर्द होना, त्वचा पर चकत्ते, घरघराहट खांसी आदि लक्षण दिखाई देते हैं।
  7. मौसम एलर्जी के लक्षण – इस एलर्जी में भी धूल एलर्जी की तरह लक्षण दिखाई देते हैं। जैसे आंखों में खुजलाहट, लालपन, पानी आना, और त्वचा में खुजलाहट, गले में खराश, छींक आना आदि।
  8. कॉस्मेटिक एलर्जी के लक्षण – इसमें त्वचा पर खुजलाहट, लाल दाने, सूजन इत्यादि लक्षण दिखाई देते हैं।
  9. गले की एलर्जी के लक्षण – जब गले में एलर्जी होती है तो यह कुछ लक्षण दिखते हैं जैसे छींक आना, नाक बहना, आंखों से पानी आना, कान का भारी होना, नाक में खुजली होना, सुनने की क्षमता कम होना इत्यादि।
  10. एलर्जी ब्रोंकाइटिस के लक्षण – इसमें आपको सिर्फ खांसी आ सकती है या खांसी के साथ बलगम भी आ सकता है, आपको सांस लेने में दिक्कत होगी, और सांस लेने के दौरान घरघराहट की आवाज भी आएगी इसके साथ-साथ भरी हुई नाक या बंद नाक और गले में खराश भी होगी आपके शरीर में दर्द होगा, बुखार होगा जिस वजह से आपको ठंड भी लगेगी, आपके सिर में दर्द और थकान महसूस होगा।
  11. खून में एलर्जी के लक्षण – जब खून में एलर्जी होता है तो हमारे शरीर में फोड़े – फुंसी का निकलना, त्वचा का रंग नीला पड़ना और त्वचा पर सगेद चकत्तों का निकलना जैसे लक्षण दिखाई देते हैं
  12. एलर्जी अस्थमा के लक्षण – इसमें आपको साँस लेने में परेशानी , साँस लेते समय घरघराहट की आवाज़ आएगी, बार – बार खांसी आएगी, नाक से पानी, नाक बंद, सीने में जकड़न, पित्त आदि समस्याएं होती है
जरूर पढ़ें -  पादप प्रजनन, Plant breeding in Hindi, प्रकार

एलर्जी के कारण/एलर्जी क्यों होती है?

जब हमारे शरीर में कोई बाहरी पदार्थ आता है और हमारा प्रतिरक्षा तंत्र उसे हानिकारक पदार्थ जा रोगाणु समझ लेता है तो उसके खिलाफ प्रतिक्रिया करने लगता है और उस पदार्थ के खिलाफ एक एंटीबॉडीज बनाता है जिसे IgE एंटीबॉडीज कहा जाता है। यह एंटीबॉडी हमारे शरीर के कई अंगों में जाकर बैठ जाते हैं और जब दोबारा से वह एलर्जन आता है तो यह कोशिका एक रसायन निकलती हैं जिससे हिस्टामिन कहा जाता है यह हिस्टामिन रसायन शरीर में एलर्जी के लक्षण उत्पन्न करते हैं।

एलर्जी के जोखिम कारक

एलर्जी एक ऐसी रोग है जिसमें एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में भी जाने की संभावना होती है इसलिए यदि आपके घर में कोई अस्थमा का पेशेंट है या एलर्जी या एक्जिमा है तो यह रोग आपको भी होने की संभावना है। इतना ही नहीं कुछ वातावरणीय कारक भी होते हैं जो एलर्जी उत्पन्न करने की खतरे को बढ़ाती है। जैसे वायु प्रदूषण और धूम्रपान करना इत्यादि। ऐसे लोग जिनका शरीर संवेदनशील होता है उनमें नीचे बताए गए कारकों से भी एलर्जी होने की संभावना रहती है।

  • स्ट्रेस
  • परफ्यून
  • हार्मोन इत्यादि।

एलर्जी की रोकथाम

  • दोस्तों एलर्जी एक ऐसी समस्या है जिसे हम हमेशा के लिए खत्म नहीं कर सकते हैं लेकिन उन कारकों से हम बचकर इसे रोक सकते हैं जिनसे हमें एलर्जी है और यही सबसे अच्छा उपाय है एलर्जी से बचने के लिए, एलर्जी से बचने के लिए आप नीचे बताए गए टिप्स को फॉलो कर सकते हैं।
  • दोस्तों यदि आपको खाद्य एलर्जी है तो आपको खाने से पहले यह देख लेना है कि क्या आपको इस भोजन से एलर्जी है या इस भोजन में वे पदार्थ मिले हैं जिनसे आपको एलर्जी है।
  • दोस्तों यदि आपको पेड़ पौधों की पराग से एलर्जी है तो आपको ऐसे मौसम में जितना हो सके घर के अंदर ही रहे जिस मौसम में पेड़ पौधे पराग छोड़ते हैं।
  • दोस्तों आप चाहे तो अपने पास एक डायरी रखें और जब भी आप कुछ खाएं या किसी दूसरे चीज से आपको एलर्जी हो रही है तो आपको उन चीजों को लिख लेना है और दूसरी बार उन चीजों को खाने से बचना है।
  • यदि आपको धूल कण से एलर्जी है तो बाहर निकलते समय मास्क का इस्तेमाल करें अपने शरीर को पूरी तरह से ढक कर रखें।
जरूर पढ़ें -  लैंगिक प्रजनन क्या होता है? जानिए A-Z, Sexual Reproduction in Hindi

एलर्जी का निदान

दोस्तों आपको एलर्जी है कि नहीं है यह सब पता करने के लिए डॉक्टर कुछ टेस्ट करते हैं जिससे वह पता लगाते हैं आपको किस प्रकार की एलर्जी है। एलर्जी को हमेशा के लिए खत्म तो नहीं किया जा सकता लेकिन उसे कंट्रोल किया जा सकता है और आपको ऐसा करने के लिए एक अच्छे डॉक्टर को दिखाना पड़ेगा। आपको किसी भी औषधि का इस्तेमाल करने से पहले एक अच्छे डॉक्टर से सलाह ले लेना चाहिए।

एलर्जी का इलाज

दोस्तों जैसा कि मैं आपको पहले ही बता रखा है की एलर्जी को हमेशा के लिए खत्म नहीं किया जा सकता है लेकिन इसका सही तरीके से इलाज करके इसको कंट्रोल किया जा सकता है  एलर्जी के लिए जो दवाई दी जाती है यह आपके एलर्जी के लक्षण और एलर्जन पर निर्भर करता है।

दोस्तों यदि आपको किसी भी प्रकार का एलर्जी है चाहे आपको छोटी समस्या हो या बड़ी समस्या हो एलर्जी से संबंधित तो आपको हमेशा एक अच्छे डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए और उनसे इलाज कराना चाहिए। किसी भी ऐसे वैसे लोगों के द्वारा बताई गई दवाओं का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए इससे आप और भी प्रॉब्लम में पड़ सकते हैं तो मैं आपको यही सलाह देता हूं कि आप एक अच्छे डॉक्टर को दिखाएं अपने लक्षण के बारे में बताएं आपको कैसी-कैसी समस्याएं हो रही हैं इसके बारे में बताएं जिसके अनुसार डॉक्टर आपका अच्छे से इलाज कर सके।

एलर्जी की जटिलताएं

दोस्तों ज्यादातर एलर्जी घातक नहीं होती है लेकिन जब किसी मेडिसिन या रसायन से एलर्जी होती है तो यह काफी खतरनाक हो सकती है और इस तरह की एलर्जी के कारण एनाफ्लेक्सिस जैसी समस्या होने की संभावना ज्यादा हो जाती है और इसके कारण व्यक्ति के श्वसन मार्ग, जीभ, गला और जो इसके आसपास हिस्से हैं उनमें काफी अधिक सूजन आ जाता है जिससे व्यक्ति को सांस लेने में काफी प्रॉब्लम होने लगती है और कुछ केसेस में व्यक्ति की मृत्यु भी हो सकती है।

एलर्जेन क्या है?

जिस पदार्थ या उत्पाद से व्यक्ति को एलर्जी होती है उसे एलर्जेन कहा जाता है।

क्या एलर्जी को जड़ से खत्म कर सकते हैं?

नहीं, हम एलर्जी को जड़ से नहीं खत्म कर सकते है लेकिन इसे हम कण्ट्रोल कर सकते है इस प्रश्न से सम्बंधित जानकारी मैंने इस लेख में दे रखा है

एलर्जी के कारण कौन सी बीमारी होती है?

दोस्तों एलर्जी खुद एक बिमारी है इससे आपको कई समस्याए हो सकती है जैसे – खुजली होना, छींके आना, आँखों में खुजली, पानी आना, नाक बंद, नाक बहना, घबराहट, सांस लेने में परेशानी आदि समस्याएं हो सकती हैं

एलर्जी में क्या नहीं खाना चाहिए

सबसे पहले आपको यह पता कर लेना है कि क्या खाने पर आपको allergy होती है जब यह पता चल जाये तब आपको उस चीज को खाने से बचना है ताकि आपको एलर्जी न हो और आप ठीक रहें

होठों पर एलर्जी क्यों होती है?

अक्सर होठों पर एलर्जी कुछ खाद्य पदार्थों के कारण होते हैं जैसे दवाओं, दूध, अंडे, मछली, मूंगफली कीड़ों के काटने या डंक से होती है।

एड्स क्या है? कारण, लक्षण, खोज, उपचार एवं नियंत्रण आगे पढ़े..

निष्कर्ष –

दोस्तों आशा करता हूं आपको यह लेख एलर्जी क्या है? (allergy kya hai) के बारे में दी गई जानकारी पसंद आई होगी और यह आपके लिए हेल्पफुल भी रहा होगा यदि यह लेख आपको पसंद आई है तो इसे अपने दोस्तों के साथ और फेसबुक और व्हाट्सएप ग्रुप में भी शेयर कीजिए और इस लेख से सम्बंधित कुछ सुझाव देना चाहते हैं तो कमेंट करके जरूर बताइए।

Leave a Comment

error: Content is protected !!